महाकाली मंदिर, लछैर, पिथौरागढ़

यह मंदिर पिथौरागढ़ मुख्यालय से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस मंदिर के आसपास की प्राकृतिक सुंदरता एकाएक मन को मोह लेती…

View More महाकाली मंदिर, लछैर, पिथौरागढ़

तंत्रोक्त देवीसूक्तम (अर्थ सहित)

इस मंत्र के जाप से सभी मनोकामनाओं की पूर्ति होती है. इस मंत्र का यथासम्भव पाठ करना चाहिए।  यह देवी माँ को प्रसन्न करने का…

View More तंत्रोक्त देवीसूक्तम (अर्थ सहित)

श्रीकनकधारा स्तोत्रम || माता लक्ष्मीजी की शक्तिशाली स्तुति (संस्कृत में)

इसके श्रद्धा-विश्वाश पूर्वक पाठ-अनुष्ठान से ऋण मुक्ति और धन प्राप्ति होती है. यह विशेष मंत्र माता लक्ष्मीजी को प्रसन्न करने के पढ़ा जाता है. श्री…

View More श्रीकनकधारा स्तोत्रम || माता लक्ष्मीजी की शक्तिशाली स्तुति (संस्कृत में)

श्रीसूक्तम्

ऋग्वेद के दूसरे अध्याय के छठे सूक्त से अनुष्टुप छंद  में माता लक्ष्मी की अद्भुत स्तुति।   हिरण्यवर्णां हरिणीं सुवर्णरजतस्रजाम् चन्द्रां हिरण्मयीं लक्ष्मीं जातवेदो म…

View More श्रीसूक्तम्

अष्टमूर्तिस्तव||संजीवनी विद्या प्रदान करने वाली स्तुति||(संस्कृत एवं हिंदी में)

महर्षि भृगु के वंश में उत्पन्न श्री शुक्राचार्य महान् शिवभक्तों में परिगणित है। इन्होने काशीपुरी में आकर एक शिंवलिंग की स्थापना की, जो शुक्रेश्वर नाम…

View More अष्टमूर्तिस्तव||संजीवनी विद्या प्रदान करने वाली स्तुति||(संस्कृत एवं हिंदी में)

सत्य की महिमा || श्रीशिवमहापुराण, उमासंहिता

सनत्कुमार जी कहते हैं-हे व्यासजी सत्य ही परब्रहम है, सत्य ही परम तप है, सत्य ही श्रेष्ठ यज्ञ है और सत्य ही उत्कृष्ट ज्ञान है।…

View More सत्य की महिमा || श्रीशिवमहापुराण, उमासंहिता

कालभैरवाष्टकं

भगवान भैरव भोलेनाथ के अंश के रूप में प्रतिष्ठित हैं। भगवान भैरव स्मरण और पूजन मात्र से अनेक कष्टों को दूर कर देते हैं। राहु-केतु…

View More कालभैरवाष्टकं

जागेश्वर धाम में स्थित पुष्टि देवी जी के प्रधान पंडित जी के साथ धार्मिक चर्चा

पंडित कमल भट्ट जी (जागेश्वर धाम, अल्मोड़ा, उत्तराखंड, भारत  में स्थित) पुष्टि देवी जी के प्रधान पंडित जी है. आप पूजा पाठ के अतिरिक्त धार्मिक…

View More जागेश्वर धाम में स्थित पुष्टि देवी जी के प्रधान पंडित जी के साथ धार्मिक चर्चा

यही कारण है की रुद्राक्ष धारण करें और रोगों से मुक्ति पाएँ………….

रुद्राक्ष सुरक्षा कवच प्रदान करता है और सभी दुर्घटनाओं और नकारात्मक ऊर्जा से बचाता है, रक्षा करता है। आध्यात्मिक रूप से अग्रिम और शक्तिशाली बनाता…

View More यही कारण है की रुद्राक्ष धारण करें और रोगों से मुक्ति पाएँ………….